Advertisement

kirdar shayari dp

जो बाकिरदार हो उसको सियानी कौन कहता है,

किसी मजदूर की बेटी को रानी कौन कहता है।

jo baakirdaar ho usko siyaani kaun kahta hai,

kisi mazdoor ki beti ko raani kaun kahta hai.

_________________________

kirdar shayari rekhta

आइने से डर जाएंगे लोग यहां,

कभी किरदार नज़र आया जो चेहरे की जगह।

aaine se dar jayenge log yahan,

kabhi kirdaar nazar ayaa jo chehre ki jagah.

_________________________

kirdar shayari in hindi image

किरदार की बदबू महेंगे से महेंगे परफ्यूम से भी नहीं जाति।

kirdaar ki badbu mahenge se mahenge perfume se bhi nahi jati.

_________________________

जिनके किरदार से आती हो सदाक़त की महक

आपका जिनके किरदार से आती हो सदाक़त की महककिरदार ही आपकी पहचान है,

Advertisement

वरना एक नाम के लाखो इंसान हैं।

aapka kirdaar hi apki pahchaan hai,

warna ek naam ke laakho insaan hain.

_________________________

किरदार पर शायरी रेख़्ता

अपने किरदार पर डाल कर परदह इकबाल,

लोग कहते हैं की जमाना बुरा है।

apne kirdaar par daal kar pardaah iqbaal,

log kahte hain ki zamana kharab hai.

_________________________

किरदार पर कविता

अपने किरदार को बदनामी की दाग ​​से बचाए रखना,

वर्ना लौट कर फूल में वपस नहीं आति खुशबू।

apne kirdaar ko badnaami ki daag se bachaaye rakhna,

warna laut kar phool me wapas nahi ati khushboo.

_________________________

किरदार जो भी हो कहानी नहीं होनी चाहिए In english

मुफलिसी का दौर इतना दर्दनाक होता है,

आदमी से उसका किरदार छिन लिया जाता है।

muflisi ka daur itna dard naak hota hai,

aadmi se uska kirdaar chheen liya jata hai.

_________________________

किरदार शायरी

इतिर से खुशबू निकलना तो एक आम सी बात है,

मजा तो तब है जब किरदार से खुशबू निकले।

itir se khushboo nikalna to ek aam si baat hai,

mazaa to tab hai jab kirdaar se khushboo nikle.

_________________________

किरदार में मेरे भले

बरसो संवादरते रहे किरदार को हम मगर,

कुछ लोग बाजी ले गए सूरत संवार के।

barso sanwaarte rahe kirdaar ko ham magar,

kuch log baazi le gye soorat sanwaar ke.

_________________________

किरदार पर शेर

अपने किरदार को इतना मजबूत और अपने जर्फ को इतना वसी रखो की लोग आप से ताल्लुक रखने में फखर महसूस करें।

apne kirdaar ko itnaa mazboot aur apne zarf ko itna wasee rakho ki log aapse talluq rakhne me fakhr mahsoos karen.

_________________________

किरदार पर कोट्स

इंसान का किरदार एक ऐसी किताब है जिसे ,

जाहिल, अनपढ़, अंधा बाआसनी से पढ़ सकते हैं।

insaan ka kirdaar ek aisi kitaab hai jise insaan, jaahil, unpadh, andhaa baa asaani se padh sakte hain.

_________________________

किरदार जो भी हो, कहानी हसीन होनी चाहिए

हमेशा ही नहीं रहते सभी चेहरे नाकाबो में,

कहानी खतम होने पर सभी किरदार खुलते हैं।

hamesha hi nahi rahte sabhi chehre naqabo me,

kahani khatm hone par sabhi kirdaar khulte hain.

_________________________

वक्त कैसा भी सामने आए अपना किरदार मत गिराना तुम इन पंक्तियों का भाव स्पष्ट कीजिए

मुझे अपने किरदार पर इतना तो यकीन है,

लोग मुझे छोड़ तो सकते हैं लेकिन भुला नहीं सकते।

mujhe apne kirdaar par itna to yakeen hai,

log mujhe chor to sakte hain lekin bhula nahi sakte.

_________________________

kirdar shayari

हज़ारो ऐब देखते हैं लोग दोसरो में,

अपने किरदार में लोग फरिश्ते हो जैसे।

hazaro aib dekhte hain log doosro me,

apne kirdaar me log farishte ho jaise.

_________________________

Kirdar shayari dp

हमारे किरदार के दागो पे तंज करते हो,

हमारे पास भी है आइना दिखाएं क्या।

hamare kirdaar ke daago pe tanz karte ho,

hamare pass bhi hai aina dikhaayen kya.

doosro ka gunaah chupana apke kirdaar ka imtehaan hai.

 

Kirdaar shayari for girl

किरदार सिरफ औरत का ही नहीं होता,

मर्द भी जब किरदार से गिर जाए तो बदकिरदार ही कहलाता है।

kirdaar sirf aurat ka hi nahi hota,

mard bhi jaab kirdaar se gir jaye to badkirdaar hi kahlata hai.

 

Kirdar par shayari hindi me

हमारी सल्तनत में खूबसुरती नहीं साहब,

किरदार के सिक्‍के चलते हैं।

hamari saltanat me khubsurti nahi saahab,

kirdaar ke sikke chalte hain

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.