Advertisement

Bachpan Shayari | बचपन शायरी | Bachpan Ki Yaaden Sayri

हम में से हर किसी का बचपन अनोखी ओर यादगार यादों से भरा होता है। बचपन हमारी जिंदगी का सबसे सुकून देने वाला हिस्सा होता है,  Bachpan Shayari, बचपन शायरी | Bachpan Ki Yaaden Sayri

Overview

नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आये है Bachpan Shayari के कुछ चुनिंदा शायरी। जी हां हम में से हर किसी का बचपन अनोखी ओर यादगार यादों से भरा होता है। बचपन हमारी जिंदगी का सबसे सुकून देने वाला हिस्सा होता है। बचपन मे हम जो कुछ भी करते है वो हमारी आने वाली जिंदगी की बुनियाद होता है। फिर जिंदगी के अगले पड़ाव पर हमें अपने बचपन की याद आती है। फिर हम खोजते है Bachpan Shayri या Bachpan Quotes आदि। जिनमे बचपन का बखान किया गया हो। और फिर हम उन Bachpan Sayri को पढ़कर उस बचपन मे खो जाते है। Bachpan Ki Yaaden हमेशा मीठी होती है। और ये यादें हमे हमेशा के लिए याद रहती है। तो चलिये आज इसी Bachpan की यादों के लिए हम लेकर आये है यह लेख। तो चलिए शुरुआत करते है Bachpan Shayari की।
.
Bachpan Shayari
Bachpan Shayari

Bachpan Shayari की शुरुआत।

आज कल दुनीया में हर कोई रिश्ते निभाने नही आते।
बूढ़े हो चले है अब मौत से छिपने के बहाने नही आते।
उड़ने दो इन परिंदों को खुली हवाओ में,
क्योंकि वापिस लौट कर बचपन के गुजरे वो जमाने नही आते।
Aaj kal dunia me har koi rishte nibhane nahi aate.
Budhe ho chale hai ab maut se chhipne k bahane nahi aate.
Udne do in parindo ko khuli hawaon me,
Kyuki vaapis laut kar bachpan ke gujre wo jamane nahi aate.
कागज़ से बनी हुई किश्ती का वो तालाब किनारा हुआ करता था।
कुछ भी दूर नही था तब, ये सब कुछ हमारा हुआ करता था।
बहुत समझदार बन गए है आज बड़े होकर हम,
Advertisement
अब समझ आया कि वो बचपन कितना प्यारा हुआ करता था।
Kagaj se bani hui kashti ka wo talab kinara hua karta tha.
Kuch bhi dur nahi tha tab, ye sab kuch hamara hua karta tha.
Bahut samajhdar ban gaye hai aaj bade hokar ham,
Ab samjh aaya ki wo bachpan kitna pyara hua karta tha.

Bachpan ki yade Bachpan ki yaadein

Bachpan ki yade Bachpan ki yaadein
Bachpan ki yade Bachpan ki yaadein
सारे जमाने मे दूर कहीं एक अकेली बस्ती हमारी थी।
लाजवाब, अनमोल और खुशकिस्मत ये हस्ती हमारी थी।
बचपन तो बचपन ही था दोस्तों,
वक़्त बेगाना था बस लेकिन वो मस्ती हमारी थी।
Saare jamane me fur kahi ek akeli basti hamari thi.
Lajawab, anmol, aur khushkismat ye hasti hamari thi.
Bachpan to bachpan hi tha doston.
Waqt begaana tha bas lekin wo masti hamari thi.
चार दोस्तों को बस एक ही साइकिल का सहारा होता था।
जेब खाली होती थी लेकिन पूरा का पूरा शहर हमारा होता था।
परवाह नही होती थी भूख और प्यास की,
हम सब का बचपन भी ना कितना प्यारा होता था।
Char dosto ko bas ek hi cycle ka sahara hota tha.
Jeb khali hoti thi lekin pura ka pura shehar hamara hota tha.
Parwaah nahi hoti thi bhukh or pyas ki,
Ham sab ka bachpan bhi na kitna pyara hota tha.

yaadein shayari

yaadein shayari
yaadein shayari
जो पहले हुआ करता था मिलनसार सन्सार वो अब नही आता।
जो पहले आया करता था मस्ती में मजा हरबार वो अब नही आता।
क्या सुकून रह गया है जिंदगी में कोई बताए मुझे,
बचपन मे आने वाला इतवार वो अब नही आता।
Jo pehle hua karta tha milansar sansar wo ab nahi aata.
Jo pehle aaya krta tha masti me mja harbar wo ab nahi aata.
Kya sukun reh gaya hai jindagi me koi btaaye mujhe,
Bachapan me aane wala itwar wo ab nahi aata.
किये हुए वादे सारे यू ही धरे के धरे रह जाते है।
ये दिन बड़ी मन्नतों व अच्छे कर्मों के बाद आते है।
जो दिन गुजार दिए अनजान बनकर हमने,
अब तो बचपन के वो दिन बड़े याद आते है।
Kiye huye waade saare yu dhare ke dhare reh jaate hai.
Ye din madi mannto v achhe karmo ke baad aate hai.
Jo din gujaar diye anjaan bankar hamne,
Ab to bachpan ke wo din bde yaad aate hai.

Bachpan quotes

Bachpan quotes
Bachpan quotes
दिमाग हमारा ले लिया और शांत ये मन ले लिया।
बेपरवाह, बिना जिम्मेदारी का हमारा ये धन ले लिया।
बड़ा सौदेबाजी करने वाला निकला ये वक़्त भी,
जवानी का लालच देकर हमसे हमारा ये बचपन ले लिया।
Dimaag hamara le.liya aur shant ye man le liya.
Beparwah, bina jimmedar ka hamara ye dhan le liya.
Bda saudebaji karne wala nikla ye wqt bhi,
Jawani ka lalach dekar hamse hamara bachpan le liya.
जिस और हम मुड़ते थे हवाएं भी उस और मूड जाया करती थी।
कितने सुहाने दिन थे यार वो बचपन वाले,
दो उंगलियों को जोड़ते थे और दोस्ती जुड़ जाया करती थी।
Jis aur ham mudte the hawayen bhi us aur mud jaya karti thi.
Kitne suhaane din the yaar wo bachpan wale,
Do ungliyo ko jodte the aur dosti jud jaya karti thi.

Bachpan shayri

Bachpan shayri
Bachpan shayri
सबका बचपन कमाल का ही होता है जनाब।
बचपन मे हम खेलते हुए चाहे रेत के टीले पर सो जाएं, चाहे आंगन में लेकिन जब सुबह उठ ते है तो बिस्तर पर से ही उठ है।
Sabka bachpan kamal ka hota hai janab,
Bachpan me ham khelte huye chahe rer ke tile pr so kaaye ya aangan me lekin jab subh aankh khulti thi to bistr pr khulti thi.
दूसरों को खुश रखने का ये शोंक हम भी रखा करते थे अपने बचपन मे यारो।
लेकिन बड़े क्या हुये हमारा ये आलीशान शोंक भी कही गम सा हो गया।
Dusron ko khush rakhne ka ye shonk ham bhi rakha kartr the apne bachpan me yaron.
Lekin bde kya huye hamara ye aalishan shonk bhi kahi gum sa ho gya.

Quotes on bachpan in hindi

Quotes on bachpan in hindi
Quotes on bachpan in hindi
जिन अंधेरों से अक्सर मेरे बचपन मे डराया है मुझे।
आज वही अंधेरे मेरे सुकून की वजह बन गए है।
Jin andhero ne aksr mere bachpan me draya hai mujje.
Aaj vahi andhere mere sukun ki vajah ban gaye hai.
चलो ना फिर से आज कोई बचपन वाला खेल खेलते है।
बड़ा वक़्त हो गया है हमे हमने यू बेवजह हंसके नही देखा है।
Chalo na fir se aaj koi bachpan wala khel khelte hai.
Bda wqt ho gya hai hme hmne yu bewajah hanske nahi dekha hai.
Bachpan ki shayari
Bachpan ki shayari

चलो, फिर से अपने बचपन में जाते हैं
खुद से बड़े-बड़े अपने सपने सजाते हैं
सबको अपनी उस धुन पर फिर से नचाते हैं
साथ हंसते हैं, और थोड़ा खिलखिलाते हैं
जो खो गयी है बेफिक्री, चलो कही उसे ढूंढ लाते हैं
चलो, फिर से आपने उस बचपन में जाते हैं ।

chalo fir se apne Bachpan Mein Jaate Hain khud se bade bade apne Sapne sajate Hain, Sab ko apni us Dhun per fir se Nachahte Hain Sath Haste Hain aur Thoda Khilkhilate hain, Jo Kho gai hai befikri use kahi se dhundh late Hain chalo fir se Bachpan Mein jate hai….

बचपन की वो बात ही कुछ और थी मेरे दोस्त,
जब घाव दिल पर नही बल्कि हाथ-पैरों पर हुआ करते थे,
जब आँसू छुपाने के लिए तकिया नही बल्कि माँ का आँचल जरूरी होता था,
जब रोने के लिए नींद नही बल्कि नींद के लिए रोया करते थे,
जब ख़ुशी प्यार के चंद पलों में नही बल्कि अच्छे गुण मिलने पर होती थी,
जब डर दिल के टुकड़े होने का नही बल्कि पेन्सिल की नोख टूटने का होता था,
जब घबराहट नए चेहरों की नही बल्कि नए शिक्षकों की होती थी,
जब संभलने के लिए एकांत वक़्त नही बल्कि माँ की बाते होती थी,
बचपन तो बीत गया पर बचपना कभी भी बीतना नही चाहिए ।

Heart touching bachpan shayari

अनमोल वचन | Motivational Suvichar Shayari | Anmol Vichar
अनमोल वचन | Motivational Suvichar Shayari | Anmol Vichar

bachpan ki baat hi Kuchh hi aur ki mere dost Jab ghav Dil per Nahin balki Hath Pairon per hua Karte The, Jab Aansu chhupane ke liye Takiya Nahin balki Maa Ka Aanchal Jaruri Hota tha, Jab Rone ke liye Nind Nahin balki Nind ke liye Roya Karte The, Jab Khushi Pyar Ke Chand Palon Mein Nahin balki acche gun milane per hoti thi Jab Dard Dil Ke Tukde hone ka Nahin balki pencil ki NOK tutane Ka Hota tha, jab ghabrahat naye chehron Ki Nahin balki nai shikshakon ki hoti thi, Jab sambhalne Ke Liye Ekant Waqt Nahin balki Maa Ki baten hoti thi, Bachpan to Beet Gaya per Bachpana kabhi bhi Bitna Nahin chahie. Bachpan Shayari

एक बचपन का जमाना था,
जिस में खुशियों का खजाना था
चाहत चाँद को पाने की थी,
पर दिल तितली का दिवाना था
खबर ना थी कुछ सुबहा की,
ना शाम का ठिकाना था
थक कर आना स्कूल से,
पर खेलने भी जाना था
माँ की कहानी थी,
परीयों का फसाना था
बारीश में कागज की नाव थी,
हर मौसम सुहाना था
हर खेल में साथी थे,
हर रिश्ता निभाना था
गम की जुबान ना होती थी,
ना जख्मों का पैमाना था
रोने की वजह ना थी,
ना हँसने का बहाना था
क्युँ हो गऐे हम इतने बडे,
इससे अच्छा तो वो बचपन का जमाना था

बचपन की यादें, कुछ पुरानी यादें शायरी

Heartbroken shayari image

Ek Bachpan Ka Jamana tha

jismein khushiyon Ka khajana tha,

Chahat Chand Ko pane ki thi

Par Dil Titli Ka Deewana Tha,

Khabar na thee kuck Subaha Ki

Na Sham Ka Thikana tha,

Thakkar Aana school se

per khelne bhi Jana Tha,

Maa ki kahani thi

pariyon Ka Fasana tha,

Barish Mein kagaj ki Nav Thi

Har Mausam Suhana tha,

Har Khel Mein Sathi the

Har Rishta nibhaanaa tha,

Gam Ki juban Na Hoti thi

na jakhmon ka paimana tha,

Rone ki vajah na thi

na Hasne ka bahana tha,

kyu Ho Gaye Ham Itne Bade

isase Achcha To Bachpan Ka Jamana tha. Bachpan Shayari

दौड़ने दो खुले मैदानों में,
इन नन्हें कदमों को जनाब
जिंदगी बहुत तेज भगाती है,
बचपन गुजर जाने के बाद
बचपन की वो यादें अब भी आती हैं
रोते में अब भी वो हँसा जाती हैं..!!

Mera bachpan, खूबसूरत यादें शायरी

Anmol Vachan suvichar
Anmol Vachan suvichar
  • अपना बचपन भी बड़ा कमाल का था,
    खेलते खेलते चाहें हम छत पर सोयें या फिर ज़मीन पर,
    आँख हमेशा बिस्तर पर ही खुलती थी।
  • वक्त से पहले ही वो अब हमसे रूठ सी गयी है,
    बचपन की वो मासूमियत न जाने कहाँ छूट सी गयी है।
  • कितने ज्यादस खुबसूरत हुआ करते थे
    बचपन के वो मस्त दिन,
    सिर्फ दो उंगलिया आपस मे जुड़ने से,
    दोस्ती फिर से शुरु हो जाया करती थी।
  • शौक जिन्दगी के अब जरुरतो में ढल गये,
    शायद बचपन से निकल हम बड़े हो गये।
  • अजीब सौदागर है ये वक़्त भी,
    जवानी का लालच दे के बचपन ले गया।
  • कोई मुझको लौटा दे वो बचपन का सावन,
    वो कागज की कश्ती वो बारिश का पानी।
  • अपना बचपन भी बड़ा कमाल का हुआ करता था,
    ना कल की फ़िक्र ना आज का ठिकाना हुआ करता था।
  • देखा करो कभी अपनी माँ की आँखों में भी,
    ये वो आईना हैं जिसमें बच्चे कभी बूढ़े नही होते।
  • हँसते खेलते गुज़र जाये वैसी शाम नही आती,
    होंठो पे अब बचपन वाली मुस्कान नही आती।
  • वो बचपन की अमीरी न जाने कहां खो गई,
    जब पानी में हमारे भी जहाज चलते थे।

Bachpan ki Yaaden Shayari का अंत।

हम में से हर किसी का बचपन एक अनमोल वक़्त होता है। जिसको हम कभी भूल नही सकते। बचपन की यादें हमेशा मीठी ही होती है। क्योंकि बचपन बड़ा मासूम होता है। तो आपके उसी बचपन की यादों को ताजा करने के लिए हमने लिखी थी यह बचपन की यादें शायरी। आशा करते है कि आपको जरूर पसन्द आयी होगी। बचपन हमारे जीवन का व्व दौर होता है जिस दौरान हमे कोई फिक्र नही होती। हम पर कोई बोझ नही होता। बस खेल खुद हमारा मकसद होता है। उस वक़्त हमारी कोई मंजिल नही होती। लेकिन जैसे जैसे जीवन बढ़ता चलता है वैसे वैसे जिम्मेदारी और परेशानी हमारी जिंदगी में घर कर लेती है। तो चलिए अगर आपके बचपन की यादें ताजा हुई है तो हमे कमेंट में अपने भाव जरूर बताएं। हमारे ब्लॉग ने आने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद। आप अन्य शायरी भी पढ़ सकते है। Bachpan Shayari

अन्य शायरी पढ़े।

 

End Bachpan Shayari

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.